“फ़”

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ

फ़ाइक़ (फ़ायक़) (22)= श्रेष्ठ, महान
फ़ाइदा(फ़ायदा) (212)= लाभ, हित, उपयोगिता
फ़क्र (21)= निर्धनता
फ़ाक़ा (22)= भूख, व्रत, निर्धनता
फ़िक्र (21)= विचार, चिन्ता, मति, राय
फ़ख़्र (21))= मान,अहंकार यश, गौरव
फ़ाख़िर (22)= अभिमानी
फ़िगार (121)= दु:खित, घायल, चिन्तित
फ़ुग़ाँ (12) = दर्द भरी पुकार, स्र्दन, गोहार
फ़ज़ (2)= स्र्दन, रोना, विलाप
फ़ज़ल (12)= श्रेष्ठता, गुण, सुबुद्धि, पुण्य
फ़ाज़िल (22)= प्रवीण, निपुण, सच्चरित्र
फ़ैज़ (21)= स्वतन्त्रता, सुन्दरता, उदारता
फ़ौज (21)= सेना, भीड़, जनता
फ़त्वा (22)= न्यायिक आदेश
फ़ित्ना (22)= विद्रोह, दंगा, लुभाव, झगड़ा, बुरापन
फ़ितरत (22)= स्वभाव, कपट, रचना, बुद्धि
फ़िदा (12)= बलि, फिरौती, श्रद्धा, परिवर्तन
फ़िदाई (121)= प्रेमी
फ़र्माइश (222)= वस्तुआें की मांग, प्रयोजन, आनन्द, इच्छा
फ़र्मान (221)= आदेश, राजघोषणा
फ़र्याद(फ़रियाद) (221)= दुखड़ा कहना, पुकार
फ़रिश्ता (122)= देवदूत, संदेश लाने वाला दूत, ईश्वरदूत, भविष्यद्वक्ता
फ़रेब (121)= धोखा, चालाकी, ठगी, कपट
फ़रो (12)= नीच
फ़िरदौस (221)= स्वर्ग, उपवन
फ़िराक़ (121)= जुदाई, चिन्ता, विरह, दूरी, अनुपस्थिती
फ़ुर्सत (22)= अवसर, अवकाश, विश्राम
फ़ौरन (22)= तुरन्त, शीघ्रता से, स्पष्टता से
फ़लक (12)= आकाश, स्वर्ग, भाग्य
फ़ुवाद (121)= हृदय
फ़ाश (21)= सन्मुख, ज्ञात, प्रसिद्ध
फ़साना (122)= प्रेमकथा, कहानी, किस्सा
फ़ासिला (212)= दूरी, अन्तर, पृथकता
फ़ैसला (212)= निर्णय, आदेश, सन्धि
फ़हम (12)= समझ, बुद्धि

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!