‘इ’ और ‘ई’

:पढ़ने का तरीक़ा: शब्द (वज़्न) सभी अर्थ

इक़बाल (221) = सौभाग्य, समृद्धि, सफलता, स्वीकृति
इक़रार (221)= शपथ, सौगन्ध, घोषणा, स्वीकृति, प्रण
इक़्तिज़ा (212)= आवश्यकता, माँग, चाह
इख़्लास (221)= प्रेम, सच्चाई, शुद्धता, निष्ठता,
इख्त़ियार (2121)= शंक्ति, अधिकार, विकल्प, मरज़ी, प्र
इज़्ज़त (22)= मान, मर्यादा, प्रसिद्धि, कीर्ति, यश
इज़्हार (221)= बताना, प्रकटीकरण, वर्णन, घोषणा
इजाज़(एजाज़) (121)= अचम्भा, चमत्कार, कौतुक
इजाज़त (122)= अनुमति, स्वीकृती, आज्ञा देना
इज़्तिराब (2121)= अशान्ति, चिन्ता, घबराहट, बेचैनी
इज़्तिरार (2121)= बन्धन, विविशता, अकुलाहट
इत्माम (221)= सम्पूर्णता, सिद्धि, प्रवीणता
इत्लाफ़ (221)= हानि, उजड़ना, नाश
इतराज़(एतराज़) (221)= विरोधता, आलोचना
इताब (121)= क्रोध, अप्रसन्नता, डाँट, दोष लगाना
इतिबार(एतबार) (221)= विश्वास, भरोसा, आसरा
इत्तिका (212)= सहारा, आसरा
इत्तिफ़ाक़ (2121)= संयोग
इत्तिफ़ाक़न (2122)= सांयोगिक, अकस्मात से
इत्तिहाम (2121)= दोष, दोषारोपण
इत्तिहाद (2121)= संधि, एकता, मित्रता
इद्राक (221)= समझ बूझ, बोध
इन्कार (221)= अस्वीकार, विरोध
इन्क़िलाब (2121)= क्रान्ति
इन्तज़ार (2121)= प्रतीक्षा
इन्तिक़ाम (2121)= बदला, प्रतिशोध
इन्तिख़ाब (2121)= चयन, चुनाव, पसन्द
इन्तिज़ाम (2121)= व्यवस्था, प्रबन्ध, ढंग, क्रम
इन्सान (221)= मानव, मनुष्य जाति
इन्सानियत (2212)= मानवता, शिष्टता, सुशीलता
ईनाद (121)= विरोधता, दुश्मनी, वैर, लाग
इनाम (221)= पुरस्कार, भेंट, पारितोषिक
इफ़्रात (221)= अधिकता, बाहुल्य, बहुतायत
इफ़्फ़त (22)= शुद्धता, पवित्रता, सतीत्व
इब्न (21)= पुत्र
इब्रत (22)= चेतावनी, डांट
इब्तिदा (212)= अनुष्ठान, आरम्भ
इब्तिसाम (2121)= मुस्कुराहट, उल्लास
इब्तिला (212)= दुर्भाग्य, कष्ट, पीड़ा
इबादत (122)= प्रार्थना, उपासना
इबारत (122)= बोली भाषा, शैली, रचना
ईमान (221) = विश्वास, धर्म मत, अंत:करण
इम्तिहान (2121)= परीक्षा, प्रयोग, जाँच, प्रमाण
इम्तियाज़ (2121)= अन्तर, अन्तर करने वाला, विशिष्ठता
इमारत (122)= भवन
इल्म (21)= ज्ञान, विज्ञान, मत, सिद्धान्त
इल्लत (22)= दोष, बुरी आदत, बीमारी, बहाना, आधार
इल्तिफ़ात (2121) = मित्रता, आदर, दया, कृपा, अनुग्रह
इलाक़ा (122) = क्षेत्र, अधिकारस्क्षेत्र, भूमि, भूसंपत्ति
इलाज (121) = उपचार, चिकित्सा, प्रतिविष
इलान(एलान) (121)= बताना, मुनादी, घोषणा
इश्क़ (21)= प्रेम
इश्तियाक़ (2121)= चाह, इच्छा, लालसा
इश्तिहार (2121)= विज्ञापन, प्रसिद्धि, ख्याति
इश्फ़ाक़ (221) = दया, अनुकम्पा, दयालुता
इशारा (122)= इंगित, चिन्ह, संकेत
ईशाद (221)= आज्ञा, आदेश, पथपर्दशन
इस्राफ़(221) = अतिव्यय, उड़ाना, उजाड़ना
इस्रार (221)= हठता, ज़ि , अविनय, दृढ़ाग्रह
इस्तिफ़ा (212)= पदत्याग
इस्बात (221)= प्रमाण, साक्ष्य, सबूत
इस्तिमाल (2121)= बरतना, बर्ताव, प्रयोग में लाना
इरादा (122)= लक्ष्य, कामना, लालसा, इच्छा
इश्रत (22)= आनन्द, मनोरंजन, हुलास, चुहल, समाज
इश्राक़ (221)= उषा, प्रभात, चमक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!