दाग़ देहलवी के 10 मशहूर शेर..

दाग़ देहलवी के 10 मशहूर शेर..

आपका ए’तिबार कौन करे
रोज़ का इंतिज़ार कौन करे

‘दाग़’ की शक्ल देख कर बोले
ऐसी सूरत को प्यार कौन करे

ग़ज़ब किया तिरे वअ’दे पे ए’तिबार किया
तमाम रात क़यामत का इंतिज़ार किया


अपने दिल को भी बताऊँ न ठिकाना तेरा
सब ने जाना जो पता एक ने जाना तेरा

ये समझ कर तुझे ऐ मौत लगा रक्खा है
काम आता है बुरे वक़्त में आना तेरा

बात मेरी कभी सुनी ही नहीं
जानते वो बुरी भली ही नहीं

उड़ गई यूँ वफ़ा ज़माने से
कभी गोया किसी में थी ही नहीं

‘दाग़’ क्यूँ तुम को बेवफ़ा कहता
वो शिकायत का आदमी ही नहीं

गर मरज़ हो दवा करे कोई
मरने वाले का क्या करे कोई

उस गिले को गिला नहीं कहते
गर मज़े का गिला करे कोई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!