Day: February 11, 2021

साहित्य दुनिया

सुना है लोग उसे आँख भर के देखते हैं… अहमद फ़राज़

सुना है लोग उसे आँख भर के देखते हैं सो उस के शहर में कुछ दिन ठहर के देखते हैं सुना है रब्त है उसको ख़राब-हालों से सो अपने आप को बरबाद कर के देखते हैं सुना है दर्द की गाहक है चश्म-ए-नाज़ उस की सो हम भी उस की गली से गुज़र के देखते […]

Read More
error: Content is protected !!